अन्त्योदय व जॉब कार्डधारकों को मिलेगा निः शुल्क खाद्यान्न: राकेश कुमार
| - RN. Network - Mar 31 2020 4:10PM

राकेश कुमार, जिलापूर्ति अधिकारी

कार्ड धारकों के खाद्यान्न वितरण में किया गया परिवर्तन: डी.एस.ओ.

पैन्डेमिक कोविड-19 की वजह से लागू लाकडाउन की स्थिति में लाभार्थी कार्डधारकों को खाद्यान्न वितरण की व्यवस्था में कतिपय परिवर्तन किए गए हैं। वह क्या हैं और कब से प्रभावी होंगे, लाभार्थियों को खाद्यान्न प्राप्त करने के लिए क्या करना होगा आदि.....आदि की जानकारी सार्वजनिक करने हेतु हमने (रेनबोन्यूज) अम्बेडकरनगर के जिला पूर्ति अधिकारी राकेश कुमार से बात-चीत किया। डी.एस.ओ. के अनुसार कोविड-19 के दृष्टिगत माह अप्रैल 2020 में होने वाले खाद्यान्न का वितरण 1 अप्रैल से प्रारम्भ होगा। इस माह में समस्त अन्त्योदय अन्न योजना के कार्डधारकों को अनुमन्य खाद्यान्न का कोई मूल्य नहीं लिया जायेगा। इसके अलावा डी.एस.ओ. ने हुए अन्य परिवर्तनों के बारे में बिन्दुवार जानकारी दी। 

-रीता, रेनबोन्यूज

अम्बेडकरनगर के जिलापूर्ति अधिकारी राकेश कुमार ने बताया कि खाद्यान्न वितरण 1 अप्रैल से प्रारम्भ हो जायेगा। अन्त्योदय अन्न योजना के लाभार्थी कार्डधारकों को अनुमन्य खाद्यान्न निःशुल्क दिया जायेगा। उनके अनुसार माह अप्रैल 2020 में उन पात्र गृहस्थी कार्डधारकों को अनुमन्य खाद्यान्न निःशुल्क वितरित किया जायेगा जो मनरेगा जॉब कार्ड धारक, श्रम विभाग में पंजीकृत अथवा नगर विकास विभाग में दिहाड़ी मजदूर हैं। डी.एस.ओ. कुमार के अनुसार ऐसे कार्ड धारक लाभार्थियों को निःशुल्क खाद्यान्न प्राप्त करने से पूर्व अपना मनरेगा जॉब कार्ड नम्बर, श्रम विभाग की पंजीयन संख्या अथवा नगर विकास की पंजीयन संख्या का प्रमाण-पत्र प्रस्तुत करना होगा।

उन्होंने आगे बताया कि निःशुल्क खाद्यान्न वितरण का विवरण उचित दर विक्रेता (कोटेदार) द्वारा निर्धारित प्रारूप पर अनुरक्षित किया जायेगा। ई-पास मशीनों में निःशुल्क लाभार्थियों को चिन्हांकित करने हेतु किए गए प्राविधानों के अनुसार वितरण के समय फ्लैग किया जायेगा। डी.एस.ओ. राकेश कुमार ने स्पष्ट किया है कि भारत सरकार द्वारा उद्घोषित समस्त लाभार्थियों को 03 माह का निःशुल्क खाद्यान्न एवं 01 किलोग्राम की दर से प्रतिकार्ड दाल वितरण आवण्टन प्राप्त होने के उपरान्त भारतीय खाद्य निगम (एफ.सी.आई.) से उठान कर अलग से वितरित किया जायेगा।

उन्होंने कहा कि कोविड-19 के वायरस से बचाव के दृष्टिगत ई-पास से बायोमैट्रिक के समय सजगता बरता जाना आवश्यक है। इसके लिए यह आवश्यक होगा कि प्रत्येक उचित दर दुकान पर सैनिटाइजर/साबुन एवं पानी की व्यवस्था की जाये और हाथ धुलने के उपरान्त ही ई-पास मशीन का प्रयोग किया जाये। डी.एस.ओ. राकेश कुमार ने कहा कि उचित दर दुकान पर भीड़ इकट्ठी न हो, सोशल डिस्टैन्सिंग को बनाये रखने के लिए दो उपभोक्ताओं के मध्य कम से कम 1 मीटर दूरी रखी जाये। उन्होंने बताया कि खाद्यान्न वितरण के समय अफरा-तफरी या अन्य व्यवधान न उत्पन्न हो और उचित दर विक्रेता निर्विघ्न खाद्यान्न वितरण कर सकें इसके लिए जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक से पुलिस व्यवस्था किए जाने हेतु अनुरोध किया गया है। 

जिलापूर्ति अधिकारी राकेश कुमार ने खाद्यान्न वितरण में किए गए बदलाव और वैश्विक महामारी के जनक कोरोना वायरस से बचाव के बावत उक्त विस्तृत जानकारी दिया। उन्होंने बताया कि यथाशीघ्र अधिकतम उपभोक्ताओं को खाद्यान्न का वितरण हो सके इसके लिए ई-पास मशीन की क्रियाशीलता के समयावधि बढ़ा दी गई है, अब उचित दर की दुकानों पर प्रातः 06 बजे से रात 9 बजे तक ई-पास मशीनें क्रियाशील रहेंगी। इस दौरान कोई भी कार्ड धारक लाभार्थी उचित दर दुकानों पर जाकर अनुमन्य खाद्यान्न प्राप्त कर सकता है। 



Browse By Tags



Other News