टाण्डा आईसीआईसीआई बैंक लूटकाण्ड का मुख्य आरोपी पुलिस मुठभेड़ में गिरफ्तार
| - RN. Network - May 2 2020 3:18PM

डेढ़ लाख का ईनामिया अपराधी लईक 15 साल से चल रहा था फरार

-रीता विश्वकर्मा

अम्बेडकरनगर। पिछले 8 माह (27 अगस्त 2019 से) तक जिला पुलिस के लिए चुनौती बना टाण्डा स्थित आईसीआईसीआई बैंक लूट काण्ड का पटाक्षेप हो गया। बैंक के लुटेरे आखिरकार पुलिस गिरफ्त में आ ही गये। लगभग 50 लाख की लूट का मुख्य अभियुक्त और उसका एक साथ जिले के टाण्डा सर्किल के अन्तर्गत कोतवाली टाण्डा पुलिस से आधे घण्टे तक चली मुठभेड़ बाद दबोच लिये गये। यह मुठभेड़ मुखबिर की सटीक सूचना पर बीती 01/02 मई की रात लगभग 10 बजे टाण्डा-अकबरपुर सड़क मार्ग पर ममरेजपुर के पास (हाइवे से लिंक रोड पकड़ी-भोजपुर जैना मार्ग के बगल धौरहरा गाँव के निकट खेत में) हुई।

इसमें अपर पुलिस अधीक्षक अवनीश कुमार मिश्र, क्षेत्राधिकारी टाण्डा अमर बहादुर, स्वाट टीम, थाना इब्राहिमपुर पुलिस, कोतवाली टाण्डा पुलिस शामिल रहे। पुलिस अधिकारियों द्वारा की गई हौंसला अफजाई का परिणाम यह रहा कि द्रुतगामी पल्सर मोटर बाइक सवार दो अपराधियों को पकड़ने वाली पुलिस टीम के मुखिया टाण्डा कोतवाल (प्रभारी निरीक्षक) संजय पाण्डेय बदमाशों द्वारा की गई फायरिंग में घायल हो गये। पुलिस द्वारा की गई फायरिंग में एक बदमाश जिसे बैंक लूटकाण्ड का मुख्य आरोपी कोतवाली अकबरपुर के शहजादपुर निवासी लईक अंसारी पुत्र मो0 अतीक बताया गया घायल हो गया। उसकी टांग और कन्धे पर गोली लगी।

मुठभेड़ के दौरान भाग रहे लईक के दूसरे साथी प्रयागराज के थाना करेली स्थित नरूल्ला रोड निवासी कलीम पुत्र एखलाख अहमद को पुलिस टीम ने धर दबोचा। लईक उत्तर प्रदेश के कानपुर जनपद के चकेरी थाना में 2005 में हुई एक लूट के बाद फरार चल रहा था। पुलिस अधीक्षक आलोक प्रियदर्शी ने जानकारी देते हुए बताया कि मुठभेड़ में घायल बदमाश लईक अकबरपुर थाना/कोतवाली के शहजादपुर का निवासी है। वह कई जिलों में लूट व हत्या की वारदात को अंजाम दे चुका है। उस पर डेढ़ लाख का ईनाम घोषित था।

पुलिस अधीक्षक आलोक प्रियदर्शी ने बताया कि टाण्डा के छज्जापुर मोहल्ले में स्थिति आईसीआईसीआई बैंक शाखा के विनीत रघुवंशी पुत्र ओमप्रकाश सिंह निवासी विरसिंहपुर, जनपद सुल्तानपुर द्वारा लूट की घटना के बावत थाना टाण्डा में मु0अ0सं0 261/2019 धारा 394 आई.पी.सी. बनाम अज्ञात पंजीकृत कराया गया था। लखनऊ में हुई लूट में गिरफ्तार कादर अनवर शेख व फिरोज खान उर्फ मुन्ना के बयान व टाण्डा आईसीआईसीआई बैंक से सी.सी.टी.वी. फुटेज के आधार पर तस्दीक हुए लईक अंसारी पुत्र अतीक अंसारी व सिबू उर्फ काना की तलाश में काफी दिन से टाण्डा पुलिस लगी हुई थी।

एस.पी. ने बताया कि बदमाशों के पास से 21 लाख 50 हजार रूपये से भरा एक बैग, एक फैक्ट्री निर्मित 38 बोर रिवाल्वर, 3 जिन्दा कारतूस व 3 अदद खोखा, 315 बोर देशी तमंचा, 3 अदद जिन्दा कारतूस 1 अदद खोखा, घटना में प्रयुक्त काली रंग की पल्सर मोटर साइकिल यू.पी. 70 जेड 4228, पैनकार्ड व मतदाता पहचान-पत्र बरामद किया गया।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि अपराधियों के साथ हुई मुठभेड़ व उनको गिरफ्तार करने वाली टीम में थाना टाण्डा के प्रभारी निरीक्षक संजय कुमार पाण्डेय, कांस्टेबिल शिवेन्द्र सिंह, कांस्टेबिल पुनीत कुमार गुप्ता, कां0 राम अवध पाल, कां0 चा0 नन्द कुमार राय और थाना इब्राहिमपुर/स्वाट टीम में थानाध्यक्ष संजय कुमार सिंह, उपनिरीक्षक जयकिशन सिंह यादव (स्वाट टीम), विकास ओझा, प्रभात मौर्या, संदीप यादव, सिद्धान्त सिंह, उमेश कुमार यादव, विपिन राठौर, अबू हमजा, अमरेश यादव, प्रदीप सिंह (सभी कांस्टेबिल) शामिल रहे। 



Browse By Tags



Other News