शिक्षक संघ उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन का करेगा विरोध: अरूण कुमार सिंह
| - RN. Network - May 4 2020 3:52PM

अरूण कुमार सिंह

जिलाध्यक्ष/मण्डलीय सचिव ने कहा- शिक्षक जान जोखिम में नहीं डालेंगे 

अम्बेडकरनगर। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ के मण्डलीय मन्त्री अरूण कुमार सिंह ने 5 मई से शुरू होने वाले हाईस्कूल एवं इण्टर मीडियट की उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन कार्य का विरोध किया है। उन्होंने कहा है कि 17 मई के बाद लाकडाउन की स्थिति को देखते हुए मूल्यांकन करने का निर्णय लिया जायेगा। उ0प्र0मा0 शिक्षक संघ/अयोध्या मण्डल के मण्डलीय मन्त्री अरूण कुमार सिंह ने कहा है कि यह निर्णय संगठन के प्रदेश नेतृत्व के आह्वान पर लिया गया है।

उन्होंने कहा कि ऐसी विषम परिस्थितियों में जहाँ वैश्विक महामारी के तीव्र गति से बढ़ते प्रभाव की वजह से पूरे देश को रेड, ऑरेन्ज व ग्रीन जोनों में बांटकर कड़ाई से पालन करने का निर्णय लिया गया है वहीं प्रदेश सरकार का मूल्यांकन कराने का निर्णय हास्यास्पद है। उन्होंने कहा कि कोविड-19 की भयावहता को देखते हुए प्रधानमंत्री के मंत्र ‘‘जान है जहान है’’ का पालन करते हुए कोई भी शिक्षक तब तक मूल्यांकन केन्द्रों पर नहीं जायेगा जब तक कि-

1- आवागमन के साधनों (सड़क व रेल मार्गों) का परिचालन शुरू नहीं हो जाता। 2- शिक्षकों को कोरोना यौद्धा मानते हुए 50 लाख रूपए का जीवन बीमा नहीं कराया जाता। 3- मूल्यांकन केन्द्रों की संख्या बढ़ाकर सामाजिक दूरी का पालन अच्छी तरह से नहीं किया जाता। 4- मूल्यांकन केन्द्रों पर शिक्षकों के लिए समस्त सुरक्षात्मक उपाय जैसे अच्छे किस्म के मास्क, सैनिटाइजर आदि की व्यवस्था नहीं की जाती। 

शिक्षक नेता अरूण कुमार सिंह ने कहा है कि वैश्विक महामारी के चलते उत्पन्न परिस्थिति में शिक्षक जान जोखिम में डालकर उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन कैसे करेंगे। संगठन के जिलाध्यक्ष ने कहा है कि प्रदेश नेतृत्व के आह्वान पर उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ की जिला इकाई ने निर्णय लिया है कि शिक्षकों की जान जोखिम में डालकर लाकडाउन-03 17 मई पहले मूल्यांकन कार्य किसी भी स्थिति में नहीं किया जायेगा। 



Browse By Tags



Other News