कोरोना से भी खतरनाक हैं कुछ बीमारियां, जिनसे रोज होती है हजारों की मौत
| Agency - May 18 2020 4:49PM

इन दिनों पूरी दुनिया कोरोना वायरस (Coronavirus in india) से खौफ में है। दुनिया भर में 47 लाख से भी अधिक लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हो गए हैं, जिसमें से 3.14 लाख से भी अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं भारत में भी कोरोना की वजह से करीब 96 हजार लोग संक्रमित हो चुके हैं और करीब 3 हजार लोगों की मौत हो गई है। यूं लग रहा है कि कल भारत में कोरोना वायरस का संक्रमण 1 लाख लोगों तक पहुंच जाएगा। इससे लोग काफी डरे हुए हैं, लेकिन ये सबसे खतरनाक बीमारी नहीं है जिसकी वजह से सबसे अधिक लोग मर रहे हैं।

कार्डियोवस्कुलर डिसीज़ से रोज मरते हैं सबसे अधिक लोग

रोज कोरोना वायरस से होने वाली मौतों की खबरें देखकर भले ही आपको लगता हो कि ये अब तक की सबसे खतरनाक बीमारी है, लेकिन दिल और खून की वहनियों से जुड़ी बीमारियां यानी कार्डियोवस्कुलर डिसीज़ (Cardiovascular disease) कोरोना से भी खतरनाक हैं। World in Data के आंकड़ों के मुताबिक दुनिया भर में 2017 में हर रोज कार्डियोवस्कुलर डिसीज़ (CVD)की वजह से करीब 48,700 लोगों की मौत हुई। कैंसर मरने वालों की संख्या भी कोरोना से अधिक है, जिससे रोज करीब 26,181 लोग मरते हैं।

फिर भी बहुत खतरनाक है कोरोना

कोविड-19 से होने वाली मौतों का आंकड़ा भले ही सबसे अधिक ना हो, लेकिन यह मलेरिया, पार्किंसन, आतंकवाद या अन्य किसी प्राकृतिक आपदा से होने वाली मौतों से अधिक है। हां, इसकी सबसे खतरनाक बात ये है कि ये एक शख्स से दूसरे में तेजी से फैलता जाता है और यही कोरोना को सबसे घातक बना रहा है। कोरोना वायरस से 31 दिसंबर 2019 से 15 मई 2020 के बीच रोज औसतन 2,205 लोगों की मौत हुई, 11 मार्च (जब कोरोना वायरस को महामारी घोषित किया गया) से 15 मई तक रोज औसतन 4,517 लोगों की मौत हुई और 13 अप्रैल से 19 अप्रैल के बीच रोज औसतन 7504 मौतें हुईं।



Browse By Tags



Other News