मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को बम से उड़ाने की धमकी, एसटीएफ को सौंपी गई जांच
| Agency - May 22 2020 4:00PM

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को जान से मारने की धमकी मिली है। आपातकालीन नंबर यूपी 112 के व्हाटसएप नम्बर पर गुरुवार देर रात मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर बम से हमला करने की धमकी मैसेज करके दी गई थी। कन्ट्रोल रूम से तुरन्त इसकी सूचना पुलिस अफसरों को दी गई। हड़कम्प की स्थिति के बीच ही पुलिस ने धमकी देने वाले के नम्बर पर पड़ताल शुरू कर दी गई। इस सम्बन्ध में गोमती नगर थाने में एफआईआर दर्ज करा दी गई है।

व्हाट्सएप के इस धमकी भरे मैसेज में सीएम को एक विशेष समुदाय के लिए खतरा बताया गया है। फिलहाल धमकी देने वाले की पहचान नहीं हुई है। लखनऊ के गोमती नगर पुलिस स्टेशन में केस दर्ज कर लिया है, मामले की जांच जारी है। उधर, एफआईआर दर्ज होने के बाद मामले की जांच यूपी एसटीएफ को सौंप दी गई है। गोमतीनगर इंस्पेक्टर धीरज कुमार की ओर से दर्ज एफआईआर के मुताबिक यूपी 112 के सोशल मीडिया डेस्क के व्हाटसएप नम्बर पर 7570000100 पर मोबाइल नम्बर 8828453350 से गुरुवार रात 12:32 पर धमकी भरा मैसज आया।

मैसेज में लिखा था कि मैं योगी आदित्यनाथ को बम से हमला कर जान से मार दूंगा...। मैसेज में लिखा गया है 'CM योगी को बम से मारने वाला हूं, मुसलमानों के जान के दुश्मन हैं वो।' पुलिस इस नम्बर की पड़ताल कर रही है। आरोपी के बारे में कई जानकारी पुलिस को मिल गई है। ट्रू कॉलर पर इस नम्बर को चेक करने पर लिखा आता है-हाय गॉय...जस्ट एबुसिंग...। पुलिस कमिश्नर सुजीत पाण्डेय ने बताया कि एफआईआर दर्ज कर पड़ताल की जा रही है। गोमती नगर थाने में धारा 505 (1) बी, 506 और 507 के तहत केस दर्ज किया गया है, मामले की जांच में पुलिस की टीमें लग गई हैं।

वहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के मीडिया सलाहकार मृत्युंजय कुमार ने ट्वीट कर लिखा है-महंत श्री योगी आदित्यनाथ जी ने जीवन में कई आपदाओं का डट कर सामना किया है और जिनके सर पर भगवान श्री राम जी का आशीर्वाद और करोड़ों उत्तरप्रदेशवसियों की दुआएँ साथ हो, उनका इन धमकी से कुछ नहीं हो सकता। मोबाइल नंबर खंगालने में जुटी पुलिस सीएम योगी आदित्‍यनाथ को जान से मारने की धमकी वाला मैसेज आने के बाद अधिकारी फौरन हरकत में आ गए। अधिकारियों ने मामले को गंभीरता से लेते हुए कार्रवाई भी शुरू कर दी। पुलिस ने बताया कि मोबाइल फोन नंबर के आधार पर एफआईआर दर्ज कर ली गई है।

एसटीएफ इस बात का पता लगा रही है कि नंबर किसका है। सख्‍त सुरक्षा घेरे में रहते हैं सीएम योगी सीएम योगी बेहद सख्‍त सुरक्षा घेरे में रहते हैं। उनकी सुरक्षा में चौबीसों घंटे कमांडो जवान तैनात रहते हैं, ताकि कोई सेंध न लगा सके। योगी आदित्‍यनाथ जब सांसद थे, तब भी उनकी सुरक्षा बेहद सख्‍त थी। वह हमेशा विशेष सुरक्षा घेरे में ही चलते हैं। इसके बावजूद धमकी भरे इस मैसेज को गंभीरता से लिया जा रहा है। 



Browse By Tags



Other News