मेडिकल स्टोर पर पूरी जानकारी देने के बाद मिलेंगी दवाएँ
| Agency - May 23 2020 4:43PM

कोरोना वायरस के मरीजों की बढ़ती संख्या के बीच यूपी सरकार ने एक बड़ा कदम उठाया है. योगी सरकार की ओर से सभी दवा विक्रेताओं को आदेश दिए गए हैं कि वो दुकान से खरीदी जाने वाली सर्दी, जुकाम और बुखार की दवाओं का बिक्री रिकॉर्ड रखें. ये आदेश औषधि अनुज्ञापन एवं नियंत्रण प्राधिकारी ने जारी किया है. सरकार ने ये रिकॉर्ड हर दिन स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण बोर्ड को भेजने के लिए कहा है. 

दवा लेने वालों की डीटेल्स लिखनी होंगी 

अगर दुकान पर कोई दवा लेने आता है तो ग्राहक का नाम, पता , मोबाइल नंबर जैसी बेसिक जानकारी दवा विक्रेता को अपने पास लिखनी होगी. सरकार का मानना है कि इस तरह की डीटेल्स कोरोना वायरस की जांच के लिहाज से संवेदनशील इलाकों की पहचान करने में सहायता करेंगे. सरकार के आदेश के मुताबिक शाम 5 बजे तक का रिकॉर्ड रोजाना दवा विक्रेताओं को सरकार को उपलब्ध कराना होगा.

सेल्फ मेडिकेशन से कई जगह हो रहा है नुकसान 

पिछले दिनों गुजरात में हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन दवा को लेकर मेडिकल स्टोर्स में हुई मारा-मारी और इससे होने वाले नुकसान को देखते हुए देश के पांच राज्य पहले ही इस तरह का आदेश जारी किया जा चुका है. तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, महाराष्ट्र, बिहार और ओडिशा के बाद अब उत्तर प्रदेश में भी ये आदेश जारी हो चुका है. सरकार को आशंका है कि कोरोना के लक्षण नजर आने पर लोग अस्पताल जाने के बजाय खुद ही इलाज की कोशिश न करें.



Browse By Tags



Other News