अभिनेता सोनू सूद की हो रही जमकर तारीफ, जानें कारण..........
| -Satyam Singh - May 24 2020 4:32PM

'सोनू सूद सर प्लीज हेल्प। ईस्ट यूपी में कहीं भी भेज दो सर। वहां से पैदल अपने गांव चले जाएंगे।' 'पैदल क्यों जाओगे दोस्त? नबंर भेजो।' पिछले कई दिनों से बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद लॉकडाउन की वजह से फँसे मजदूरों को घर पहुंचाने में उनकी हरसंभव मदद कर रहे हैं। वो उनके लिए बसों से लेकर खाने-पीने की चीज़ों तक का इंतजाम कर रहे हैं।

सोनू सूद के इस कदम की वजह से हर ओर उनकी तारीफ़ें हो रही हैं और ट्विटर पर #SonuSood सबसे ऊपर ट्रेंड कर रहा है। लोग उन्हें 'लॉकडाउन का हीरो' बता रहे हैं। समाचार एजेंसी पीटीआई को कुछ दिनों पहले दिए एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा था कि उनसे मजदूरों का दुख देखा नहीं जा रहा है और वो उन्हें घर पहुंचाने के लिए पूरी कोशिश करेंगे। कोरोना संकट के बीच जारी लॉकडाउन की वजह से हजारों प्रवासी मजदूर देश के अलग-अलग हिस्सों में फंसे हुए हैं।

लॉकडाउन के पहले चरण के एलान के बाद से ही अंतरराज्यीय और रेल सेवाएं बंद कर दी गई थीं। इसकी वजह से बड़ी संख्या में मज़दूर पैदल ही अपने घरों को जाने से के लिए मजबूर हो गए थे। ऐसी संकट की घड़ी में सोनू सूद मज़दूरों के लिए बड़ी राहत बनकर उभरे हैं। उन्होंने उत्तर प्रदेश सरकार से ख़ास अनुमति लेकर प्रवासी मज़दूरों को घर पहुंचाने के लिए कई बसों का इंतजाम करवाया। इससे पहले उन्होंने कर्नाटक के कई मज़दूरों को घर पहुंचाने के लिए बसों का इंतजाम कराया था।

सोनू ने कहा, "ये मेरे लिए एक बेहद भावुक सफ़र रहा है। सड़कों पर पैदल चलकर अपने घर जाते मजदूरों को देखकर मुझे बहुत कष्ट होता है। मैं तब तक उन्हें घर पहुंचाने में मदद करता रहूंगा जब तक आखिरी मज़दूर अपने परिवार से न मिल जाए।" 46 वर्षीय सोनू सूद ने उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड और कर्नाटक जैसे राज्यों के मज़दूरों को उनके घर पहुंचाने में मदद की है। इससे पहले उन्होंने पंजाब के डॉक्टरों और स्वास्थ्यकर्मियों के लिए 1,500 पीपीई किट भी दान किया था। इतना ही नहीं उन्होंने मुंबई का अपना होटल स्वास्थ्यकर्मियों को रहने के लिए भी दिया है।

सोनू सूद रमजान के महीने में भिवंडी इलाके में हजारों गरीबों और प्रवासी मजदूरों को खाना भी खिला रहे हैं। उनकी एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिसमें वो नारियल फोड़कर मजदूरों को बस से विदा करते नजर आ रहे हैं। उनकी यह दरियादिली पूरे ट्विटर और सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म्स पर छाई हुई है। लोग उनकी तारीफ में पोस्ट कर रहे हैं, मीम्स और तस्वीरें शेयर कर रहे हैं।

लोग कह रहे हैं कि कोरोना वायरस की वैक्सीन का तो पता नहीं मगर सोनू सूद ने हजारों प्रवासी मजदूरों के लिए वैक्सीन का काम किया है। ट्विटर यूजर्स ये भी कह रहे हैं कि फिल्मों में अमूमन खलनायक की भूमिका निभाने वाले सूद असल जिंदगी में हीरो हैं। इतना ही नहीं, लोग उन्हें 'भगवान' तक बता रहे हैं और महाराष्ट्र का अगला मुख्यमंत्री बनाने की मांग भी कर रहे हैं।


 



Browse By Tags



Other News