फिल्मकार बासु चटर्जी का 90 साल की उम्र में निधन
| Agency - Jun 4 2020 2:00PM

'रजनीगंधा' और 'बातों बातों में' जैसी बड़ी फिल्मों का किया निर्देशन

बॉलीवुड के लिए साल 2020 बिल्कुल अच्छा साबित नहीं हो रहा है। इरफान खान, वाजिद खान और ऋषि कपूर के निधन के बाद अब एक और बुरी खबर आई है। बॉलीवुड के मशहूर फिल्ममेकर बासु चटर्जी का निधन हो गया है। वह 90 साल के थे। उन्होंने कई बड़ी फिल्मों का निर्देशन किया है। जिनमें 'रजनीगंधा', 'बातों बातों में', 'एक रुका हुआ फैसला', 'चितचोर' शामिल हैं। उनके निधन की खबर की पुष्टि न्यूज एजेंसी पीटीआई से IFTDA (इंडियन फिल्म एंड टेलीविजन डायरेक्टर्स एसोसिएशन) ने की है।

जानकारी के मुताबिक उनका उम्र संबंधी बीमारियों के कारण निधन हो गया है। इंडियन फिल्म एंड टेलीविजन डायरेक्टर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष अशोक पंडित ने ट्वीट कर कहा, 'मुझे ये बताते हुए काफी दुख हो रहा है कि महान फिल्मकार बासु चटर्जी का निधन हो गया है। उनका अंतिम संस्कार आज दोपहर 2 बजे सातांक्रूज में होगा। ये फिल्म इंडस्ट्री के लिए बहुत बड़ी क्षति है। सर आपकी याद आएगी।' वहीं उन्होंने पीटीआई से कहा है, 'उन्होंने (बासु चटर्जी) सुबह के वक्त नींद में ही शांति से अंतिम सांस ली। वो उम्र से संबंधित कई दिक्कतों के कारण बीते कुछ समय से परेशान थे और उनके आवास पर ही उनका निधन हुआ है।

यह फिल्म इंडस्ट्री के लिए भारी क्षति है।' बासु चटर्जी को 'पिया का घर', 'खट्टा मीठा' और 'उस पार' जैसी फिल्मों के लिए भी पहचाना जाता है। बता दें बासु चटर्जी का जन्म 10 जनवरी, साल 1930 को अजमेर में हुआ था। चटर्जी को उनकी अलग तरह की फिल्में बनाने के लिए जाना जाता है। उनकी अधिकतर फिल्में मध्यमवर्गीय परिवार पर आधारित रहती थीं। जो दर्शकों के दिलों को छू लेती थीं। उन्होंने फिल्मों के अलावा टीवी शोज का डायरेक्शन भी किया है। जिनमें ब्योमकेश बख्शी और रजनी जैसे शो शामिल हैं। चटर्जी के अलावा उनकी बेटी रुपाली गुहा भी फिल्मों का निर्देशन करती हैं। उनकी बेटी टीवी शोज को भी प्रोड्यूस कर रही हैं।



Browse By Tags



Other News