मैं एक Private Teacher हूँ।
| -RN. Feature Desk - Jul 4 2020 12:50PM

जी हाँ, मैं एक private teacher हूँ; मैं भी एक आदमी हूँ।
मुझे भी रोटी की भूख है; मेरा भी एक परिवार है, मेरे भी बच्चे हैं। उनसब को भी रोटी चाहिए। #क्या_करूँ_क्या_न_करूँ?😢

जी हाँ, मैं एक private teacher हूँ; बहुत दिनों से घर पर हूँ। मेरे बूढे-बीमार-लाचार मां-बाबूजी रोज सुबह-दुपहर-शाम मुझे अपनी धंसी आंखों से निहारते रहते हैं। वे बोलते नहीं हैं, मैं समझ जाता हूँ; मैं भी नहीं कुछ कहता, लेकिन वे समझ जाते हैं। उन्हें नहीं पता corona क्या है, covid-19 क्या है। बस #भींगी_नेत्रों से हम एक-दूसरे को #निहार_भर_लेते हैं।😊

जी हाँ, मैं एक private teacher हूँ ; मेरे दो छोटे बच्चे हैं।
पूछते हैं-पापा, आप हमेशा घर पर ही रहते हो। क्यों?पढाने नहीं जाते हो? किसी ने मना कर दिया है? तबीयत खराब है?
एक छोटी-सी ,प्यारी-सी बिटिया भी है। पूछती है-पापा, पापा, तुम अब कुछ लाके नहीं देते हो। कितने दिन हो गये मेरे लिए टाफी नहीं लाए।😢
उसे क्या पता corona,covid-19। #मैं_चुप_रह_जाता_हूँ_बस।

जी हाँ, मैं एक private teacher हूँ; मेरी पत्नी रोज पूछती है- "आपका काम कब शुरू होगा? सबकुछ धीरे-धीरे खत्म हो गया है। पहाड़-सा टूट पङा है"। मैं कोई जवाब नहीं देता। उदास होती है। अपनी उदासी को कम करने के लिए मुझे ढांढस बंधाती है- चिंता मत करिए, सब ठीक हो जायेगा।😢

जी हाँ, मैं एक private teacher हूँ; पिछले साल मेरी शादी हुई है। बहुत खुश थी चार महीने पहले तक।गुनगुनाती रहती थी, नृत्य भी कभी-कभी कर लेती थी, छोटी-छोटी बातों पर भी ठहाके लगाती थी। अब चुप रहती है, गुमसुम। #पूरा_घर_उदास_हो_गया_है। 😢

जी हाँ, मैं एक private teacher हूँ; मैं bachelor हूँ।पढा कर मैं सबकुछ manage कर लेता था। खाना, रहना, किराया। मेरे मां-पिता साधारण व्यक्ति हैं। मैं उनसे क्या कहूँ?
मैं एक जिम्मेदार इंसान बनना चाहता हूँ लेकिन क्या करूँ?
रात में खुद को समझाता हूँ, रोता हूँ, चुप होता हूँ, खुद से सवाल करता हूँ-मैं एक private teacher क्यों हूँ?
#सोने_का_बहाना_कर_के_सो_जाता_हूँ।😢

जी हाँ, मैं एक private teacher हूँ। समाज में लोग सवालिया नजरों से देखते हैं। एक मित्र ने पूछा- कैसे हैं?
पढाई-उढाई शुरू हुई?- नहीं।- ठीक है, रखते हैं। मेरा एक cousin बाहर काम करता है। पूछा -भैया, आपका पढाना-लिखाना शुरू हुआ?- नहीं।
- ठीक है, रखते है😢

जी हाँ, मैं एक private teacher हूँ। कुछ दिन पहले किसी ने  facebook पर post किया:

TEACHER : YOU ARE GREAT👍

अब समझ में आया। एक private teacher भी  great क्यों है। इतनी विपरीत परिस्थितियों में भी मैं जिंदा हूँ। उपेक्षित हूँ, फिर भी जिंदा हूँ। घोर अभाव है, फिर भी जिंदा हूँ। मेरे पढाये छात्र सफल हैं, गर्व है; मैं कहीं नहीं हूँ, फिर भी जिंदा हूँ। जिंदा हूँ फिर पढाने के लिए अगर मौका मिले तो ।
जी हां, मैं एक private teacher हूँ।😊

-एक प्राइवेट टीचर की व्यथा उसी की कलम से...



Browse By Tags