विकास दुबे का राइट हैंड अमर दुबे हमीरपुर में मुठभेड़ में ढेर
| Agency - Jul 8 2020 1:25PM

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले के बिकरू गांव में आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के छह दिन बाद वारदात के मुख्य आरोपी विकास दुबे का एक साथी बुधवार की सुबह हमीरपुर जिले में पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) के साथ मुठभेड़़ में मारा गया। एसटीएफ के महानिरीक्षक अमिताभ यश ने बताया कि विकास दुबे का साथी अमर दुबे हमीरपुर के मौदहा में एक मुठभेड़ में मारा गया। उन्होंने बताया कि दुबे पर 25000 रुपये का इनाम घोषित था और वह पिछले हफ्ते चौबेपुर थाना क्षेत्र के बिकरू गांव में बदमाशों द्वारा घात लगाकर आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के मामले में शामिल था। 

अधिकारी ने बताया कि इस जघन्य वारदात का मुख्य आरोपी ढाई लाख का इनामी गैंगस्टर विकास दुबे अब भी फरार है। उसकी तलाश में पुलिस की अनेक टीमें लगी हुई हैं। पुलिस के एक अधिकारी ने कहा, ‘‘ हम उसे पकड़ने की कोशिश में लगे हैं और हमारे दल कार्यरत हैं।’’ गौरतलब है कि गत दो-तीन जुलाई की दरमियानी रात करीब एक बजे गैंगस्टर विकास दुबे को पकड़ने गए पुलिस दल पर उसके गुर्गों ने ताबड़तोड़ गोलियां चला कर एक पुलिस क्षेत्राधिकारी, तीन दारोगा और चार कॉन्स्टेबल की हत्या कर दी थी।

कौन था अमर दुबे 

पुलिस के मुताबिक, अमर दुबे 3 जुलाई को हुए एनकाउंटर में मारे गए अतुल दुबे का भाई था। कानपुर के बिकरू गांव में शुक्रवार को हुए शूटआउट से चार दिन पहले 29 जून को ही अमर दुबे की शादी हुई थी। विकास दुबे के घर की छत से जिन बदमाशों ने पुलिस टीम पर फायरिंग की थी, अमर दुबे भी उन लोगों में शामिल था। बताया जा रहा है कि अमर दुबे एक तरह से विकास दुबे का पर्सनल बॉडीगार्ड था।



Browse By Tags



Other News