अनलॉक 4 में सब्जियों के दाम आसमान पर, खाद्य पदार्थों के मूल्य में कई गुना बढ़ोत्तरी
| - Rainbow News Network - Sep 7 2020 4:15PM

अम्बेडकरनगर। अनलॉक में सब्जियों व खाद्य पदार्थों के दाम आसमान छू रहे हैं। इसकी कालाबाजारी भी चरम पर है। एक तरफ जहां थोक व्यापारियों को फायदा हो रहा है, वहीं आमजन की जेब पर डाका डाला जा रहा है। कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए सरकार ने लॉकडाउन की घोषणा कर सभी बाजार, उद्योग धंधे, परिवहन सेवाएं समेत अन्य कारोबार बंद कर दिए थे, जिसका असर सब्जी मंडी पर दिखाई दे रहा है।

अब अनलाक होने के बावजूद भी सब्जियों और खाद्य पदार्थों के दामों में कमी नहीं आ रही है। अरहर की दाल 120 रुपए, सरसों का तेल 130 रुपए, रिफाइन 105 रुपए, पैकेट मसाला 200 ग्राम 75 रुपए, सुपाड़ी 400 रुपए, भोला, तुलसी, 132, तंबाकू व गुटका समेत अन्य सामानों के दाम अब डेढ़ से दोगुना हो गए हैं। लॉकडाउन में उद्योग धंधे व परिवहन सेवाओं में भारी कमी रही।

तत्समय खाद्य पदार्थों के दाम नहीं बढ़े और जब परिवहन सेवाओं के साथ उद्योग धंधे शुरू हो गए हैं, ऐसे में खाद्य पदार्थों के दाम में भारी बढ़ोत्तरी व कालाबाजारी से आम आदमी कराह रहा है। सब्जियों, मसाला व खाद्य पदार्थों के दाम काफी बढ़ गए हैं, जिससे आम आदमी का जीना तथा खाना-पीना बड़ा मुश्किल हो गया है। 

अकबरपुर नगर में ठेले पर ताजी सब्जियाँ रखकर बेंचने वाले स्ट्रीट वेण्डर रजत यादव उर्फ शनी, निवासी मेन चौक शहजादपुर ने बताया कि इस समय मण्डी में सब्जियों के दाम में आग लगी हुई है। दो-तीन महीने पहले जिन सब्जियों के दाम 20 से 25 रूपए हुआ करते थे वही अब 40 से 60 तक पहुँच गया है। शनी ने बताया कि वह अपने ठेले पर ताजी सब्जियाँ मण्डी से लाकर शहर की गलियों में नियमित रूप से बेंचता है।

इस समय सब्जियों में आलू 40, प्याज 30, टमाटर 50, बैंगन 40, परवल 60, मिर्चा 70, प्याज 30, शिमला मिर्च 60, घुंइया 40, भिण्डी 30, नेनुआ 30, लौकी 30, मूली 40 और करैला 40 रूपए प्रति किलो की दर से बिक रही है। इन्हीं दामों पर वह अपने ग्राहकों को सब्जियाँ बेंच रहा है। शनी कोरोना वायरस के दृष्टिगत सोशल डिस्टैन्सिंग का ख्याल रखते हुए मास्क लगाकर गली-गली में जाकर ग्राहकों को सब्जियाँ बेंचता है। 



Browse By Tags



Other News