अकबरपुर-दोस्तपुर (गोहन्ना-बरधाभिउरा सवा दो किमी) सड़क मार्ग का निर्माण जल्द ही करा लिया जायेगा: हरे कृष्ण
| - Rainbow News Network - Sep 8 2020 5:16PM

हरे कृष्ण, अवर अभियन्ता

पी.डब्ल्यू.डी. (प्रान्तीय खण्ड) के अवर अभियन्ता ने दी जानकारी

लम्बे अरसे से लटका हुआ था उक्त सड़क का निर्माण

अम्बेडकरनगर। जनपद गठन को 25 वर्ष पूरे होने को हैं। परन्तु अकबरपुर-दोस्तपुर सड़क मार्ग पर सवा दो किलोमीटर का एक ऐसा टुकड़ा है जिसे उक्त मार्ग का पैबन्द ही कहा जायेगा। 25 वर्षो में जिले में अनेकों विकास कार्य हुए, सड़कें बनीं, टू लेन, फोर लेन चौड़ी सड़कों का निर्माण हुआ, शासन द्वारा इस कार्य में पानी की तरह पैसा बहाया गया। नगर पालिका अकबरपुर क्षेत्र का भी विस्तारीकरण हुआ। इसमें 40 गाँव समाहित किए गए। फिर भी अकबरपुर-दोस्तपुर मार्ग के बीच अकबरपुर-गोहन्ना-बरधाभिउरा तक लगभग सवा दो किलोमीटर मार्ग के गड्ढे और उड़ती धूल बरसात में कीचड़ और पानी इस बात के प्रमाण हैं कि सरकारी धन का बन्दरबांट ही हुआ है। और सम्बन्धितों ने धन का सदुपयोग स्वहितार्थ किया है। 

बीते जून माह में लोक निर्माण विभाग के सूत्रों से पता चला था कि अकबरपुर-दोस्तपुर मार्ग का यह धब्बा अब जल्द ही साफ हो जायेगा, इसके लिए धन भी आवंटित हो चुका है और निर्माण कार्य भी शुरू हो गया है। जून माह के प्रथम सप्ताह से शुरू हुए इस मार्ग पर कथित निर्माण कार्य को क्षेत्र वासियों ने नहीं देखा और न ही उक्त मार्ग पर गमनागमन करने वालों ने। कुल मिलाकर टाट का यह पैबन्द यानि अकबरपुर दोस्तपुर सड़क मार्ग पर स्थित अकबरपुर-गोहन्ना-बरधाभिउरा सड़क मार्ग (2220 मीटर) मीडिया में ही वायरल हो रही खबरों में बनता रहा। हकीकत कुछ और ही रही। यह भ्रम की स्थिति कुछ-कुछ दिनों के अन्तराल पर मीडिया में प्रकाशित व प्रसारित होती रही।  

वास्तविकता पता करने पर ज्ञात हुआ कि उक्त मार्ग पर बने दशकों पुराने उक्त पैच को सड़क के रूप में परिवर्तित करने के लिए निर्माण सम्बन्धी जानकारियाँ लोक निर्माण विभाग (प्रान्तीय खण्ड) अकबरपुर क्षेत्र के जिम्मेदार अवर अभियन्ता हरे कृष्ण द्वारा दी जाती रहीं। हालांकि इनके द्वारा दी गई जानकारी की पुष्टि में मीडिया द्वारा प्रान्तीय खण्ड के अधिशाषी अभियन्ता इं0 शंकर्षणलाल का नाम लिखा जाता रहा। सूत्रों के अनुसार जे.ई. हरे कृष्ण द्वारा इस तरह किया जाना एक आम बात है। वह स्थानीय मीडिया को खुश करने के लिए इस तरह के वक्तव्य देते रहते हैं। उनके बारे में बताया गया है कि मीडिया प्रबन्धन में इनको महारत हासिल है। उनके द्वारा ऐसा भ्रम उत्पन्न करने वाला वक्तव्य दिये जाने का क्रम (उक्त सड़क निर्माण के अलावा अन्य कई के बावत) बदस्तूर जारी है। 

अद्यतन प्राप्त जानकारी के अनुसार उक्त पैच के सड़क निर्माण सम्बन्धी खबर प्रमुखता से वायरल हो रही है। इस खबर में सभी कंटेन्ट जून में प्रकाशित खबर के अनुसार ही हैं। 

रेनबोन्यूज के काफी प्रयास के बाद क्षेत्र के अवर अभियन्ता (प्रान्तीय खण्ड), लोक निर्माण विभाग, अम्बेडकरनगर हरे कृष्ण ने कहा कि उक्त सड़क मार्ग के निर्माण की स्वीकृति जून में ही मिल गई थी, कुछ काम भी हुआ था। निर्माण सामग्री भी आई थी, परन्तु लागत के सापेक्ष मिला धन कम था, जिससे निर्माण कार्य गति नहीं पकड़ सका। अब धन अवमुक्त हो चुका है और विभाग को प्राप्त हो चुका है शीघ्र ही निर्माणदायी संस्था सूर्या कान्सट्रक्शन द्वारा उक्त सड़क मार्ग का निर्माण कार्य शुरू करवाया जायेगा। जब उनसे कहा गया कि रेनबोन्यूज/दैनिक मान्यवर में जून में प्रकाशित खबर में सड़क निर्माण के लागत का जो विवरण छपा था उसमें कोई रद्दोबदल नहीं किया गया है। तब उन्होंने कहा कि नहीं उसमें कोई बदलाव नहीं हुआ है, सब कुछ यथावत है। बस रूका हुआ निर्माण कार्य शुरू कराकर अगले एक से डेढ़ महीने में पूरा करा लिया जायेगा।  



Browse By Tags



Other News