मेरा पति‍ मांग रहा 40 लाख रुपये, मुझसे मेरे बच्‍चे को भी छीन लि‍या है, एसएसपी सर हेल्‍प कीजि‍ए
| Agency - Sep 12 2020 1:17PM

वाराणसी। अपने दुधमुंहे बच्‍चे को देखने की फ़रियाद लेकर एक मां गुरुवार को एसएसपी कार्यालय पहुंची। महिला का आरोप है कि उसके पति ने उसके डेढ़ साल के बच्चे को उससे छीनकर उसे मायके में छोड़ दिया है और 40 लाख रुपये की मांग कर रहा है। महिला ने बताया कि उसने 14 अगस्त को लालपुर पांडेयपुर थाने में इस सम्बन्ध में तहरीर भी दी है पर पुलिस आज तक मुझे मेरा बच्चा नहीं दिला पायी है। फिलहाल महिला की फरियाद सुन एसएसपी अमित पाठक ने उचित कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है।  

पांडेयपुर के संजय नगर कालोनी में रहने वाले आदित्य शंकर सिंह और स्वास्थ्य विभाग से रिटायर्ड एएनएम विद्या सिंह की दो संतानों में छोटी बेटी की शादी शालिनी की शादी 3 दिसंबर 2017 में भदोही जनपद के बरदाह, चौरी के रहने वाले प्राइमरी पाठशाला के अध्यापक मुकेश कुमार सिंह से धूमधाम से हुई थी। शादी के समय लड़का पक्ष की सभी मांगे शालिनी के माता पिता ने पूरी की थी ताकि लड़की सुखी रहे, पर आज शालिनी अपनी मां के साथ एसएसपी कार्यालय अपने पति से अपने दुधमुहे को छुड़ाने और दहेज़ प्रताड़ना मामले में मिलने पहुंची थी। 

इस सम्बन्ध में शालिनी ने रोते हुए बताया कि मुकेश से शादी के बाद दो महीने तक सब कुछ ठीक रहा पर उसके बाद वो बार मुझसे 40 लाख रुपये घर से लाने की बता कहने लगा। मैंने कहा कि मेरी मां अब रिटायर्ड हो चुकी है ऐसे में इतना पैसा कैसे मां लेकर देंगी। इसपर मुझे हमेशा ताना देता और मारता पीटता। शालिनी ने बताया कि इसमें उसका साथ सास-ससुर भी देते थे।

शालिनी ने बताया कि उसके बाद रक्षाबंधन पर मेरा इकलौता भाई राखी बंधवाने भी घर नहीं आया। उसके बाद भी मेरे पति ने मुझे दिन भर मारा और कहा कि अपनी मां से कहो की मेरे अकाउंट में ढाई लाख रुपये डाले। उसके बाद जन्माष्टमी के दिन भी यही किया। 3 बजे मां को फोन करके ढाई लाख रुपये मांगे, मां ने जब ये कहा की आज बैंक बंद होगा और यदि खुला भी होगा तो आज पैसे नहीं जा पाएंगे। शालिनी ने आरोप लगाते हुए कहा कि उसके बाद मुकेश ने मुझे बहुत मारा और यहाँ बनारस लाकर छोड़ दिया।

उस दौरान मेरा 18 माह का बच्चा भी मेरे साथ था पर एकदिन बनारस आकर वो मेरे बच्चे को भी ज़बरदस्ती अपने साथ ले गया। इस सम्बन्ध में हमने 14 अगस्त को लालपुर पांडेयपुर थाने में तहरीर भी दी है पर पुलिस आज तक मेरे नवजात को मुझे नहीं वापस दिला पायी। वो कहाँ है मुझे नहीं पता। शालिनी ने पुलिस के शिथिल रवैये के चलते आज एसएसपी अमित पाठक से अपने मां के साथ पहुंचकर मुलाकात की और फरियाद लगायी की जल्द से जल्द उसके दुधमुहे को उसे दिलाया जाए। 



Browse By Tags



Other News