आदित्य ठाकरे के बारे में आप भी जानें...
| Agency - Sep 17 2020 3:21PM

ठाकरे परिवार के बड़े बेटे आदित्य ठाकरे आजकल चर्चाओं में हैं सुशांत सिंह राजपूत मामले में बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रानौत लगातार उन पर हमलावर हैं. उन्होंने उन पर फिर हमला बोला है. ये कहा है कि वो इस केस में संदिग्ध लोगों के साथ घूमते रहे हैं. वैसे आदित्य महाराष्ट्र सरकार में कैबिनेट मिनिस्टर हैं औऱ राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के बेटे.

आदित्य ठाकरे मुंबई में वर्ली से शिवसेना के विधायक हैं. वो कविताएं लिखते हैं. उनकी कविताओं की एक किताब भी प्रकाशित हो चुकी है. उसके अलावा वो अपनी कविताओं पर अपना एक एल्बम भी बना चुके हैं. जिसमें जाने-माने संगीतकार और गायकों ने उनका साथ दिया है. इस एल्बम के सभी आठ गाने उन्हीं के थे.

आदित्य अपने ठाकरे के पहले चुने हुए सदस्य हैं. इससे पहले उनके परिवार के किसी सदस्य ने कभी चुनाव नहीं लड़ा. आदित्य 30 साल के हैं. महाराष्ट्र के विधानसभा चुनावों के दौरान युवाओं के बीच उनका अच्छा क्रेज देखा गया था. आदित्य की पढ़ाई मुंबई के बढ़िया स्कूल और कॉलेज में हुई है.

उन्होंने बाम्बे स्काटिस स्कूल से जहां इंटर किया तो फिर बीए हिस्ट्री सेंट जेवियर कॉलेज मुंबई से. इसके बाद उन्होंने मुंबई के केसी लॉ कॉलेज से एलएलबी यानि वकालत की डिग्री ली. वो शिवसेना के युवा सेना के प्रेसीडेंट हैं. इससे पहले भी वो विवादों में रह चुके हैं. कालेज में पढ़ाई के दौरान उन्होंने जाने-माने भारतीय प्रवासी लेखक रोहिंग्टन  मिस्त्री की किताब "सच ए लांग जर्नी" के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए उसे फूंका था.

उनका आरोप था कि इस किताब में उनके परिवार और मराठियों के बारे में आपत्तिजनक बातें लिखी हैं. उन्हें लोग मजाक में बेबी पेंग्विन कहते हैं. हालांकि इसके पीछे एक किस्सा है. लेकिन ट्विटर पर जब एक शख्स ने उन्हें बेबी पेंग्विन लिखकर संबोधित किया तो उन्होंने उसे गिरफ्तार करा दिया. दरअसल महाराष्ट्र की फडणवीस सरकार में उन्होंने मुंबई के चिड़ियाघर में पेंग्विन रखने के लिए अभियान चलाया.

साउथ कोरिया से कुछ पेंग्विन लाए गए लेकिन उनमें से कई वहां के मौसम और इंफेक्शन के कारण मर गए.  इसके बाद लोगों ने उन्हें बेबी पेंग्विन कहना शुरू कर दिया.



Browse By Tags



Other News