शहीद-ए-आजम भगत सिंह के जन्मदिवस अवसर पर परिचर्चा का आयोजन
| - Rainbow News Network - Sep 29 2020 12:21PM

लखनऊ। शहीद स्मारक एवं स्वतंत्रता संग्राम शोध केन्द्र, लखनऊ के तत्वावधान में शहीद-ए-आजम भगत सिंह के जन्मदिवस के अवसर पर परिचर्चा का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता वरिष्ठ लेखक एवं अधिवक्ता अवतार सिंह बहार ने व संचालन वीरेंद्र त्रिपाठी ने किया।

परिचर्चा में शहीद भगतसिंह के बलिदान और विचारों को याद करते हुए एक बार फिर एक सामाजिक आंदोलन की जरूरत पर सभी वक्ताओं ने जोर दिया। परिचर्चा में श्रम कानूनों और कृषि कानूनों में हुये जनविरोधी बदलाव, लोकतंत्र का सीमित होता दायरा और देश में बढती तानाशाही के संन्दर्भ में भी चर्चा हुई।

वक्ताओं ने कहा कि इन बदलावों ने देश को फिर से अंग्रेजी गुलामी की स्थिति में पहुंचा दिया है।आज विरोधी विचारों का निर्ममता से दमन किया जा रहा है,सामाजिक सद्भाव खत्म किया जा रहा है। और हर तरह के रूढ़िवादी मूल्य आम जनता पर थोपे जा रहे है। ऐसी स्थिति में शहीद भगतसिंह के विचारों से हमें इन चुनौतियों का मुकाबला करने के लिये प्रेरणा और दृष्टि मिलती है। आज जरुरत है कि भगतसिंह के विचारों को आज के संदर्भ में समझने और उसके आधार पर एक नये वैचारिक, सामाजिक, राजनीतिक आंदोलन के लिये एकजुट हो आगे बढे।

कार्यक्रम में ज्योति राय, अरविंद पचौरी, जय प्रकाश, एस के पांडे, शिव नारायण कुशवाहा, विपिन त्रिपाठी, शिवाजी, राजीव कुमार, अजय शर्मा, डाँ सतीश श्रीवास्तव, अरूण कुमार, एहसानुल हक मलिक, फैजल, फरहाज अली सहित अन्य लोगों ने अपने विचार रखे।

-वीरेंद्र त्रिपाठी, एडवोकेट, कार्यक्रम संयोजक, 9454073470



Browse By Tags



Other News