जिला अधिकारी ने की दिसंबर माह के विकास कार्यों की समीक्षा, दिए निर्देश
| - Rainbow News Network - Jan 7 2021 5:10PM

अम्बेडकरनगर। शासन के नवीन सर्वोच्च प्राथमिकता के दिसंबर माह के विकास कार्यों की प्रगति की समीक्षा बैठक जिला अधिकारी राकेश कुमार मिश्र की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में की गई। बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने जनपद के विकास कार्यों की बिंदुवार समीक्षा की गई। इस दौरान जिलाधिकारी ने अधिशासी अभियंता नहर को निर्देश देते हुए कहा कि खरीफ/ रबी की फसल के दौरान किसानों के खेतों में पानी रोस्टर के अनुसार पहुंचना चाहिए। यदि पानी रोस्टर के अनुसार नहीं पहुंचेगा तो संबंधित के खिलाफ कार्यवाही तय की जाएगी।

जिलाधिकारी अधिशासी अभियंता विद्युत को निर्देशित किया कि विद्युत बकाया भुगतान अविलंब कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि परिषदीय विद्यालयों का भुगतान ग्राम पंचायतों के माध्यम से कराना सुनिश्चित करें।जनपद में संचालित    गोआश्रय स्थलों में पशुओं के कुशल संरक्षण के दृष्टिगत जिलाधिकारी ने मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी को निर्देशित किया कि पशुओं के ठंड से बचाव के लिए सभी व्यवस्थाएं दुरुस्त होना चाहिए।

पर्याप्त मात्रा में अलाव, पशु कोट की उपलब्धता सुनिश्चित हो साथ ही साथ भूसा, हरा चारा, पशु आहार भी पर्याप्त मात्रा में होना चाहिए। उन्होंने कहा कि सहभागिता योजना के अंतर्गत कुपोषित परिवारों को गाय उपलब्ध कराकर पोषण युक्त परिवार बनाने में अपनी सहभागिता सुनिश्चित करें। मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी को यह भी निर्देश दिया गया कि पशुओं की इयर टैगिंग में कोई लापरवाही नहीं होना चाहिए।

स्वास्थ्य विभाग में संचालित योजनाओं की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने दवाइयों की उपलब्धता, नवजात शिशु एवं गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण कुत्ता काटने वाला इंजेक्शन आदि की व्यवस्था सुदृढ़ करने के निर्देश दिए गए साथ ही साथ उन्होंने शासन द्वारा संचालित जनहित योजना आयुष्मान में अधिक से अधिक पात्रों का गोल्डन कार्ड बनाकर उन्हें योजना से आच्छादित करें।

निर्माण कार्यों की वित्तीय एवं भौतिक प्रगति की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने कार्यदाई संस्था उत्तर प्रदेश राजकीय निर्माण निगम के अधिशासी अभियंता राजीव कुमार को निर्देश देते हुए कहा कि प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र तेंदुआईकला एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र वेवाना में अधूरे निर्माण कार्य पूर्ण करा कर तत्काल हैंडोवर करना सुनिश्चित करें।

कायाकल्प योजना अंतर्गत जनपद में संचालित 1586 परिषदीय विद्यालयों में के सापेक्ष मात्र 527 विद्यालयों का कायाकल्प किया गया है। जिसकी समीक्षा कर जिलाधिकारी ने नाराजगी जाहिर करते हुए बेसिक शिक्षा अधिकारी को तत्काल विद्यालयों का कायाकल्प कराने की हिदायत दी। उन्होंने कहा कि कायाकल्प के साथ-साथ विद्यालयों की भौतिक प्रग ति का निरंतर निरीक्षण करना सुनिश्चित करें। बाकी विकास कार्यों में जनपद की अच्छी प्रगति जिलाधिकारी ने अधिकारियों का उत्साहवर्धन करते हुए कार्यों के प्रति निरंतरता बनाए रखने को कहा।

उन्होंने कहा कि जनपद की रैंकिंग महत्वपूर्ण नहीं है बल्कि कार्य अत्यंत महत्वपूर्ण है कार्यों के प्रति कोई भी अधिकारी लापरवाही ना बरतें और इमानदारी से अपने दायित्वों का निर्वहन  करते हुए शासन की मंशा के अनुरूप कार्य करने में कोई लापरवाही ना बरतें। इस दौरान मौके पर मुख्य विकास अधिकारी घनश्याम मीणा,परियोजना निदेशक प्रदीप पांडे, जिला विकास अधिकारी बिरेंद्र सिंह, अर्थ संख्या अधिकारी अनुपम कुमार सिंह एवं अरुण कुमार शुक्ल, अपर अर्थसंख्या अधिकारी भूपेंद्र तिवारी, अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी तथा संबंधित विभाग के अधिकारी/ कर्मचारी मौके पर उपस्थित रहे।



Browse By Tags



Other News