फातिमा ज़हरा ने समाजी जिंदगी के पहलू को किया उजागर : मौलाना मोहम्मद काज़िम
| - Rainbow News Network - Jan 18 2021 5:18PM

अम्बेडकरनगर। अकबरपुर तहसील क्षेत्र के ग्राम सभा हसनाबाद कटौना में इस्लाम धर्म के संस्थापक मोहम्मद साहब की इकलौती बेटी हज़रत फातिमा ज़हरा की शहादत पर मोमिनीने बड़ा चौक हसनाबाद कटौना की तरफ से अय्यामे अज़ाए फातमियॉ की मजालिस का आयोजन रविवार की रात्रि बड़ा चौक अज़ाखानए सानिए ज़हरा में किया गया।

मजलिस का संचालन मौलाना कैसर अब्बास ने किया वही मजलिस को शिया धर्मगुरु मौलाना सैय्यद मोहम्मद काज़िम फैज़ाबाद ने संबोधित करते हुए कहॉ कि हज़रत मोहम्मद साहब ने अपनी प्यारी बेटी फातिमा ज़हरा को अपने जिगर का टुकड़ा करार दिया हजरत फातिमा को तकलीफ देना रसूल को कष्ट देने जैसा है। मोहम्मद साहब अपनी बेटी हजरत फातिमा से बेहद प्यार करते थे।

मजहब-ए-इस्लाम को हम तक लाने वाले का नाम हजरत मोहम्मद है, वहीं दीन-ए-मोहम्मदी को परवान चढ़ाने वाले का नाम हजरत अली है और दीन इस्लाम को बचाने वाली हैं। हजरत बीबी फातिमा- हजरत फातिमा ने समाजी जिंदगी के पहलू को जमाने पर इतना उजागर किया कि औरतें सीरते फातिमा पर चलने लगीं।अगर आज भी उनके बताए रास्ते पर चला जाए तो किसी घर में आपसी मनमुटाव नहीं हो सकता।

हजरत बीबी फातिमा पर जलता हुआ दरवाजा गिराया गया था। जिनसे उनकी हड्डियां टूट गईं और उन्हें शहादत नसीब हुई। हजरत फातिमा को जन्नतुल बकी में दफन किया गया। यह सुनकर पूरा मजमा रोने लगा। मजलिस के पूर्व सोज़ख्वानी मोमिन हुसैन जलालपुरी ने की जबकि पेशख्वानी जावेद असगर व परवेज़ असगर ने किया मजलिस के बाद अंजुमन यादगारे हुसैनी हसनाबाद कटौना ने नौहा मातम पेश किया!



Browse By Tags



Other News