राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा सप्ताह का शुभारम्भ
| - Rainbow News Network - Jan 21 2021 4:56PM

सांसद रितेश पाण्डेय ने हरी झण्डी दिखाकर जागरूकता रैली को किया रवाना

अम्बेडकरनगर। 30 वां सड़क सुरक्षा सप्ताह मनाए जाने हेतु टैम्पो, जीप, टैक्सी व अन्य वाहन चालक एसोसिएशन तथा जनपद में संचालित मोटर ट्रेनिंग स्कूल के माध्यम से कलेक्ट्रेट परिसर से सांसद रितेश पांडे द्वारा हरी झंडी दिखाकर यातायात नियमों का पालन करने एवं जन जागरूकता हेतु रैली को रवाना किया गया। इस दौरान जिलाधिकारी राकेश कुमार मिश्र, पुलिस अधीक्षक आलोक प्रियदर्शी, एआरटीओ विष्णु दत्त मिश्रा, विवेक सिंह, विपिन कुमार, अमित श्रीवास्तव मौके पर उपस्थित रहे।

सांसद ने अपने संबोधन में कहा कि कोई भी व्यक्ति नशे की हालत में या मोबाइल से गाड़ी चलाते हुए बात न करें। उन्होंने कहा कि विद्यालयों में सड़क सुरक्षा के बारे में बच्चों को जानकारी दी जाए जिससे बच्चों को भी जागरूक किया जा सके। वाहन चालक एसोसिएशन तथा स्कूल वाहन चालक से अपील किया कि वाहन चलाते समय सड़क सुरक्षा हेतु हेलमेट, सीट बेल्ट आदि का प्रयोग अवश्य करें। ओवर स्पीड में वाहन न चलाएं। यातायात के नियमों का पालन करना हम सब की नैतिक जिम्मेदारी है।हम सभी को स्वयं जिम्मेदारी से सड़क के नियमों का पालन करना होगा और अपने आसपास के लोगों को भी इसके प्रति जागरूक करना होगा।

सड़क सुरक्षा सप्ताह मनाया जाने के दौरान जिलाधिकारी ने कहा कि दोपहिया वाहन चलाते समय दो व्यक्तियों से अधिक वाहन पर न बैठे ।वाहन के फिटनेस पर ध्यान देना बेहद जरूरी है। उन्होंने कहा कि सुरक्षा से संबंधित सभी बिंदुओं पर मंथन करने की जरूरत है ।हमारे छोटे- छोटे लापरवाही से घटनाएं होती रहती हैं । उन्होंने कहा कि वाहन ओवरटेक करते समय विशेष सावधानी बरतें। चालक समय को बचाने के लिए तेजी वाहन न चलाएं। निर्धारित गति सीमा से वाहन चलाएं। उन्होंने यह भी सचेत किया कि इंडिकेटर का प्रयोग कर ही मोड़ पर मुड़ना तय किया जाए और कभी भी वाहन चलाते समय हेडफोन का प्रयोग न किया जाए।

पुलिस अधीक्षक ने अपने संबोधन में कहा कि यह सप्ताह इसलिए मनाया जाता है कि दुर्घटना से हम बचे। उन्होंने कहा कि वाहन चलाने में ओवरटेकिंग ना करें। वाहन को सही स्पीड में ही चलाएं मोड़ पर हार्न बजाते हुए डिपर का अवश्य प्रयोग करें। एआरटीओ एवं ट्रैफिक पुलिस को उन्होंने निर्देशित किया कि ट्रैफिक नियमों का सख्ती से पालन कराएं।

इस दौरान एआरटीओ ने सड़क सुरक्षा यातायात के बारे में विस्तृत चर्चा करते हुए वाहन चालक एवं विद्यालय के प्रबंधको को सचेत किया। उन्होंने कहा कि जीवन अमूल्य है उसकी रक्षा करना हम सभी का दायित्व है। वाहन चालकों से अनुरोध किया कि गाड़ी चलाते वक्त अपने गाड़ी का सही से जांच कर लें कि उसमें किसी प्रकार की कमी तो नहीं है। विद्यालय प्रबन्धकों से कहा कि समय-समय पर अपने वाहन चालकों को सचेत करते रहे कि गाड़ी में कोई कमी तो नहीं है यदि कमी है तो उसे तुरंत ठीक करा लें। गाड़ी स्वामी अपने गाड़ी का परिवहन विभाग से समय-समय पर निरीक्षण करा कर फिटनेस प्रमाणपत्र भी प्राप्त कर लें।



Browse By Tags



Other News