16 वर्ष की उम्र में वैष्णवी श्रीवास्तव को दिलायी जायेगी इण्टर तक की शिक्षा: प्रतिक्षा सिंह  
| - Rainbow News Network - Feb 8 2021 12:43PM

जौनपुर। इण्टर नेशनल बुक ऑफ रिकार्ड का तीन रिकार्ड ध्वस्त करने वाली माउंट लिट्रा जी स्कूल की कक्षा दो की छात्र वैष्णवी श्रीवास्तव को प्रबंधक अरविन्द सिंह और प्रिंसपल डा0 प्रतिक्षा सिंह ने रविवार को नगर के बलुआघाट स्थित सिटी कार्यालय पर मेडल व प्रमाण पत्र देकर सम्मानित की। मौके पर मौजूद लोगो का सीना गर्व से ऊंचा हो गया। इस मौके पर प्रबंधक अरविन्द सिंह ने कहा कि कालेज प्रशासन इस बेटी को बुलंदियों पर पहुंचाने के लिए लगातार प्रयास कर रहा है, जल्द ही यह मेरे स्कूल की छात्रा पूरे दुनियां में देश और मेरे स्कूल का नाम रौशन करेगी। 

प्रिंसपल प्रतिक्षा सिंह ने कहा कि लाॅक डाउन के कारण ऑन लाइन पढ़ायी हो रही है स्कूल खुलने के बाद मैं और हमारे टीचर इस स्टूडेंट को और अच्छी तरह से पढ़ा लिखाकर हर क्षेत्र में आगे करने का प्रयास करेगीं। इतना ही नही अगली कक्षाओ में  प्रमोशन करके 16 वर्ष के भीतर ही इण्टर पास कराने का प्रयास किया जायेगा।मालूम हो कि बीते नवम्बर व दिसम्बर माह में हुसेनाबाद मोहल्ले की निवासी व माउंट लिट्रा जी स्कूल की कक्षा दो की छात्रा वैष्णवी श्रीवास्तव ने इण्टरनेशनल बुक आफ रिकार्ड का तीसरा रिकार्ड भी ध्वस्त कर दी। उसने यह तीनो रिकार्ड मात्र 23 दिनों के भीतर ध्वस्त करके अपने नाम किया है। तीसरा रिकार्ड वैष्णवी ने मात्र 27 सेंकेण्ड में 28 राज्यों का नाम, राजधानी, आठ केन्द्र शासित प्रदेशो का नाम व राजधानी का नाम बताकर विश्व रिकार्ड बनायी है।

वैष्णवी के इस सफलता से जिले के लोगो का सीना गर्व से ऊंचा हो गया है। सभी लोग उसे अपना आर्शीवाद देते हुए और बुलंदी पर पहुंचने की कामना कर रहे है। नगर के हुसेनाबाद मोहल्ले के निवासी दीवानी न्यायालय के नोटरी अधिवक्ता अनुराग श्रीवास्तव व माता श्वेता स्नेह की सात वर्षीय बेटी व माउंट लिट्रा जी स्कूल की कक्षा दो की छात्रा वैष्णवी श्रीवास्तव की गजब की मेमोरी है। उसे एक बार पढ़ने व जुबानी बताये गये वाक्य याद हो जाता है। जिसका परिणाम है कि आज वह इण्टरनेशनल स्तर होने वाली प्रतियोगिताओं में जिले का झण्डा बुलंद कर रही है।



Browse By Tags



Other News